|PM SHRI Yojana| पीएम श्री योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म व पात्रता

पीएम श्री योजना की संपूर्ण जानकारी | PM SHRI Yojana Apply Online | पीएम श्री योजना की पात्रता, लाभ तथा उद्देश्य | PM SHRI Yojana Online Registration | पीएम श्री योजना की कार्यान्वयन प्रक्रिया तथा ऑनलाइन आवेदन | PM SHRI Yojana Online Form |

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा PM SHRI योजना की घोषणा की गई है | इसके अंतर्गत प्रधानमंत्री जी ने देशभर के कई स्कूलों को विकसित तथा उन्नतिशील बनाने का फैसला किया है | जिसे छात्रों की पढ़ाई में परिवर्तन आएगा तथा छात्रों को आधुनिक तकनीक द्वारा शिक्षा प्राप्त होगी | इस योजना से देश भर के लाखों विद्यार्थियों को लाभ प्राप्त होगा |

हम आपको इस योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे | इस की ऑनलाइन आवेदन व पंजीकरण की प्रक्रिया की जानकारी | इसके लाभ, पात्रता, मुख्य बिंदु तथा विशेषताएं क्या है? यदि आप पीएम श्री योजना (स्कूलस फॉर राइजिंग इंडिया) से लाभ उठाना चाहते हैं तो आप इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें | 

|PM SHRI Yojana| पीएम श्री योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म व पात्रता

PM SHRI (Schools For Rising India) Yojana

प्रधानमंत्री जी ने सोमवार को शिक्षक दिवस पर 5 सितंबर 2022 को पीएम श्री योजना की घोषणा की | सरकार द्वारा स्कूलों में परिवर्तन करके आधुनिक रूप से शिक्षा प्राप्त करने की योजना बनाई गई है | इसके अंतर्गत नई टेक्निक, स्मार्ट क्लासेस, खेल तथा आधुनिक अवसंरचना पर विशेष ध्यान दिया जाएगा | इसके तहत देश के 14500 स्कूलों को विकसित तथा उन्नत किया जाएगा |

यह योजना केवल सरकारी स्कूलों में ही लागू होगी | PM SHRI Yojana द्वारा इन स्कूलों को मॉडल बनाया जाएगा | इनमें सीखने को ध्यान में रखकर शिक्षा प्राप्त करने पर जोर दिया जाएगा | यह स्कूल अनुकरणीय स्कूलों की तरह काम करेंगे | इन स्कूलों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के घटकों की झलक दिखेगी | इससे शिक्षा क्षेत्र में वृद्धि तथा देश का विकास होगा |

|PM SHRI Yojana| पीएम श्री योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म व पात्रता

प्रधानमंत्री श्री स्कूल के मुख्य तथ्य

पीएम श्री स्कूल के मुख्य तथ्य निम्नलिखित हैं:-

योजना का नाम पीएम श्री योजना
फुल फॉर्मप्रधानमंत्री स्कूल्स फॉर राइजिंग इंडिया
कब लागू की गईशिक्षक दिवस पर
दिनबुधवार
तिथि5 सितंबर सन 2022
किसके द्वारा आरंभ हुईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
कहांभारत में
विभागस्कूल एवं शिक्षा विभाग
उद्देश्यदेश के पुराने स्कूलों को अपग्रेड करना तथा छात्रों को नई टेक्निक व स्मार्ट क्लास द्वारा अच्छी शिक्षा प्रदान कराना
छात्रों को लाभछात्रों द्वारा अच्छी शिक्षा प्राप्त करके उनका भविष्य उज्जवल होगा
लाभार्थी छात्र-छात्राएं
लाभार्थी स्कूलों की संख्या14500 स्कूल
अपग्रेड होने वाले स्कूलसरकारी स्कूल
योग्यतासरकारी स्कूल में पढ़ने वाले छात्र-छात्राएं
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
अधिकारिक वेबसाइटअभी लागू नहीं की गई

पीएम श्री योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य युवा छात्रों को उच्च शिक्षा प्रदान करना तथा आने वाले समय के हिसाब से छात्रों का पूर्ण विकास करना है | इसके अंतर्गत छात्रों को नई टेक्निक, स्मार्ट क्लासेस, खेल आधुनिक अवसंरचना के तहत विकासशील भविष्य के काबिल बनाया जाएगा | पीएम श्री योजना द्वारा छात्रों का गुणवत्तापूर्ण शिक्षण, अध्ययन तथा संज्ञानात्मक विकास होगा |

इस योजना के माध्यम से भारत के 14500 सरकारी स्कूल को अपग्रेड किया जाएगा | देश के हर ब्लॉक में लगभग एक स्कूल को अपग्रेड होगा तथा इसके साथ वरिष्ठ माध्यमिक स्कूलों को जोड़ा जाएगा | PM SHRI Yojana द्वारा सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब तथा कमजोर वर्ग के बच्चों को भी अच्छी शिक्षा प्राप्त होगी तथा उनका भविष्य बनाने में मदद मिलेगी |

PM SHRI Yojana की कार्यान्वयन प्रक्रिया

पीएम मोदी ने कहा है कि इन स्कूलों को मॉडर्न इंफ्रास्ट्रक्चर के तहत तैयार किया जाएगा | नई टेक्निक, स्मार्ट क्लासरूम, स्पोर्ट्स और अन्य चीजों के हिसाब से तैयार किया जाएगा | इन अपग्रेड विद्यालयों में प्रोत्साहित और विविध अनुभव देने वाली देने वाली अच्छी व्यवस्था तथा संस्थानों की उपलब्धता सुनिश्चित होगी | 

इन स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति को बढ़ाया जाएगा | पीएम श्री योजना के अंतर्गत शिक्षा तक पहुंच को सुगम बनाया जाएगा | स्कूल की पढ़ाई बीच में छोड़ने को हतोत्साहित किया जाएगा ताकि भविष्य में छात्र अच्छा रोजगार प्राप्त कर सकें | यह स्कूल राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) के कार्यान्वयन में मदद करेंगे | इन विद्यालयों का अपने क्षेत्र में अलग ही नाम होगा |

श्री योजना के लाभ 

पीएम श्री योजना के कुछ मुख्य लाभ नीचे दिए गए हैं:-

  • PM SHRI Yojana द्वारा छात्रों का भविष्य विकासशील तथा उज्जवल होगा |
  • इसके द्वारा 21वीं सदी के कौशल की जरूरतों के अनुरूप समग्र और पूर्ण विकसित नागरिकों का निर्माण होगा |
  • पुराने स्कूलों को अपग्रेड करके उसमें आधुनिक उपकरणों का विकास किया जाएगा |
  • इन स्कूलों में नई टेक्निक, अच्छी कक्षा, खेल तथा आधुनिक अवसंरचना के द्वारा अच्छा भविष्य की कल्पना की जा सकती है |
  • देश के लगभग 14500 स्कूलों को अपग्रेड किया जाएगा इसके अंतर्गत राज्य के हर ब्लाक में एक स्कूल अपग्रेड होगा |
  • यह स्कूल अनुकरणीय स्कूलों की तरह कार्य करेंगे तथा अन्य स्कूलों का मार्गदर्शन भी करेंगे |
  • पीएम श्री योजना से शिक्षा में वृद्धि तथा देश में अत्यधिक विकास होगा तथा अधिक से अधिक नागरिक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से लाभान्वित होंगे |
  • इससे गरीब तथा कमजोर वर्ग के बच्चों उच्च शिक्षा प्राप्त होगी तथा गरीब बच्चों का भविष्य उज्जवल होगा |
  • इन स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब बच्चे भी अपने भविष्य के बारे में कुछ अच्छा बनने की सोच रखेंगे|
  • इस योजना द्वारा देश के लाखों विद्यार्थी लाभान्वित होंगे | 

पीएम श्री योजना की विशेषताएं

पीएम श्री योजना की मुख्य विशेषताएं नीचे दी गई हैं:-

  • PM SHRI Yojana को शिक्षक दिवस के मौके पर 5 सितंबर 2022 घोषित किया गया |
  • इसके अंतर्गत केवल पुराने सरकारी स्कूलों को ही अपग्रेड किया जाएगा तथा छात्र-छात्राओं को स्मार्ट क्लासेस प्रदान की जाएंगी |
  • इससे देश में अच्छी सोच वाले तथा पढ़े-लिखे नागरिकों का विकास होगा |
  • इस योजना द्वारा छात्र-छात्राओं के भविष्य का सुचारू रूप से निर्माण हो सकेगा तथा आने वाले समय में उन्हें रोजगार भी प्राप्त हो जाएगा | 
  • इन स्कूलों में प्रारंभिक शिक्षा से लेकर 12वीं कक्षा तक की शिक्षा प्रदान की जाएगी |
  • इस योजना के तहत आने वाले स्कूलों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति शिक्षा (NEP) के घटकों की झलक होगी |
  • पीएम श्री ( प्रधानमंत्री स्कूल और राइजिंग इंडिया) योजना के अंतर्गत 14500 स्कूलों को मॉडल बनाया जाएगा |
  • इस योजना पर कार्य करने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी |

PM– श्री योजना के लिए पात्रता मानदंड

इस योजना के लिए पात्रता मानदंड निम्नलिखित है:-

  • यह योजना केवल छात्रों के लिए है |
  • केवल सरकारी स्कूल के छात्र 
  • प्री नर्सरी से बारहवीं तक के छात्र

आवेदन की प्रक्रिया


अभी केवल प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा PM– श्री योजना की घोषणा की गई है | अभी इसकी आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च नहीं है | जैसे ही इसके आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च की जाएगी तो इस लेख के माध्यम से आपको सूचित कर दिया जाएगा | वेबसाइट लॉन्च हो जाने के बाद राज्य के छात्र इस योजना का लाभ ले सकते हैं |

पीएम श्री योजना: शीर्ष 10 अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

1. पीएम श्री योजना क्या है?

यह योजना, जिसे प्रधानमंत्री स्कूलों के लिए श्री योजना (पीएम श्री) के नाम से जाना जाता है, भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक पहल है। इसका उद्देश्य सरकारी स्कूलों में बुनियादी ढांचे और सुविधाओं को विकसित करने और बेहतर बनाने के लिए निजी क्षेत्र और समुदायों की भागीदारी को बढ़ावा देना है।

2. इस योजना के तहत कौन से स्कूल शामिल हैं?

यह योजना देश भर के सभी सरकारी स्कूलों, जिसमें प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालय शामिल हैं, पर लागू होती है।

3. इस योजना में भाग लेने के लिए क्या आवश्यकताएं हैं?

इस योजना में भाग लेने के लिए, निजी क्षेत्र या समुदायों को स्कूलों के विकास और सुधार के लिए अपनी स्वेच्छा से योगदान देना होगा। वे विभिन्न तरीकों से योगदान दे सकते हैं, जैसे कि:

  • वित्तीय सहायता: स्कूलों के बुनियादी ढांचे, सुविधाओं और शिक्षण सामग्री के विकास के लिए धन प्रदान करना।
  • स्वयंसेवी कार्य: शिक्षण, मेंटॉरिंग, और अन्य स्कूल गतिविधियों में स्वयंसेवा प्रदान करना।
  • संसाधन और सामग्री: स्कूलों को फर्नीचर, उपकरण, खेल सामग्री, और अन्य आवश्यक सामग्री प्रदान करना।

4. इस योजना के तहत क्या लाभ मिलते हैं?

इस योजना के तहत, स्कूलों को निम्नलिखित लाभ मिल सकते हैं:

  • बेहतर बुनियादी ढांचा और सुविधाएं
  • बेहतर शिक्षण सामग्री और शिक्षण उपकरण
  • अधिक कुशल और प्रेरित शिक्षक
  • बेहतर छात्र प्रदर्शन
  • समुदाय के साथ बेहतर जुड़ाव

5. इस योजना में कैसे भाग लिया जा सकता है?

इस योजना में भाग लेने के लिए, निजी क्षेत्र या समुदायों को निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  • अपनी रुचि व्यक्त करें: [अमान्य यूआरएल हटाया गया] पोर्टल पर जाकर अपनी रुचि व्यक्त करें।
  • अपने योगदान का चयन करें: आप अपनी पसंद के अनुसार वित्तीय सहायता, स्वयंसेवी कार्य, या संसाधन और सामग्री प्रदान कर सकते हैं।
  • योगदान देने की प्रक्रिया: पोर्टल पर उपलब्ध दिशानिर्देशों का पालन करके अपना योगदान दें।

6. इस योजना के बारे में अधिक जानकारी कहां से प्राप्त कर सकते हैं?

इस योजना के बारे में अधिक जानकारी [अमान्य यूआरएल हटाया गया] पोर्टल पर उपलब्ध है। आप पोर्टल पर उपलब्ध संपर्क जानकारी का उपयोग करके योजना के बारे में पूछताछ भी कर सकते हैं।

7. इस योजना की शुरुआत कब हुई थी?

इस योजना की शुरुआत 5 सितंबर, 2022 को हुई थी।

8. इस योजना के तहत कितने स्कूलों को लाभान्वित किया जाएगा?

इस योजना के तहत देश भर के सभी सरकारी स्कूलों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है।

9. इस योजना के लिए कितना बजट आवंटित किया गया है?

इस योजना के लिए कोई निश्चित बजट आवंटित नहीं किया गया है। यह योजना निजी क्षेत्र और समुदायों के योगदान पर आधारित है।

10. इस योजना की सफलता कैसे मापी जाएगी?

इस योजना की सफलता को निम्नलिखित मानदंडों द्वारा मापा जाएगा:

  • स्कूलों में बुनियादी ढांचे और सुविधाओं में सुधार
  • शिक्षण सामग्री और शिक्षण उपकरणों में सुधार
  • शिक्षकों की क्षमता और प्रेरणा में वृद्धि
  • छात्र प्रदर्शन में सुधार
  • समुदाय के साथ जुड़ाव में वृद्धि

Leave a Comment