सोलर रूफटॉप योजना 2023: ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म, सब्सिडी, कैलकुलेटर

सोलर रूफटॉप योजना की सभी जानकारी, इसके लाभ, उद्देश्य,संयंत्र की विशिष्टता तथा आवेदन प्रक्रिया | Solar Rooftop Subsidy Yojana login & registration | सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना DISCOM Portal Links देखने की प्रक्रिया | Solar Rooftop Yojana online form |

Solar Rooftop Subsidy Yojana केंद्र सरकार / भारत सरकार के तहत शुरू की गई है। इस योजना के तहत आवेदन करने से लाभार्थी घर या कार्यस्थल की छत पर सोलर लगाने के लिए सब्सिडी राशि प्राप्त कर सकेंगे। सरकार घरों की छतों पर सोलर पैनल लगाने के लिए 40% सब्सिडी सुनिश्चित करेगी।

आज इस लेख के माध्यम से हम आपको सोलर रूफटॉप योजना 2023 के बारे में सभी प्रकार की जानकारी प्रदान करेंगे जैसे उद्देश्य, पात्रता मानदंड, लाभ, सुविधाएँ, महत्वपूर्ण दस्तावेज आदि। इसके अलावा, हम आपके साथ इस योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया को साझा करेंगे। इस योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़ें।

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना 2023

पर्यावरण के मौजूदा संसाधनों को बचाने और सौर ऊर्जा का लाभ लेने के लिए अक्षय ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए, भारत सरकार ने सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना शुरू की है। प्रत्येक पात्र लाभार्थी को उनके घरों में सोलर पैनल लगाने के लिए 40% सब्सिडी आवंटित की जाएगी। यह योजना देश के नागरिकों को सौर ऊर्जा प्रणालियों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करती है।

केंद्र सरकार ने देश के नागरिकों के बीच सौर ऊर्जा और नवीकरणीय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए Solar Rooftop Subsidy Yojana शुरू की है ताकि यह बिजली शुल्क से संबंधित सभी समस्याओं का समाधान कर सके। इस योजना के तहत आवेदन करने के बाद किसी को भी बिजली बिल की एक बड़ी राशि का भुगतान नहीं करना पढेगा। आवेदकों को उनकी छतों पर सोलर पैनल लगाने के लिए सब्सिडी आवंटित की जाएगी।

सोलर रूफटॉप योजना 2023: ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म, सब्सिडी, कैलकुलेटर

सोलर रूफटॉप योजना 2023 की मुख्य विशेषताएं       

इस योजना की मुख्य बातें इस प्रकार हैं:-

योजना का नामसोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना
किस द्वारा लॉन्च किया गयाप्रधानमंत्री श्री. नरेंद्र मोदी जी
प्रत्यायोजित मंत्रालयनवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एमएनआरई)
जिसके तहत लॉन्च किया गयाकेंद्र सरकार
लागू7 केंद्र शासित प्रदेश और 29 राज्य
उद्देश्यसौर पैनलों की स्थापना के लिए सब्सिडी प्रदान करने के लिए
फायदालोगों को भारी मात्रा में बिजली बिल नहीं चुकाने होंगे
लाभार्थियोंभारत के नागरिक
सब्सिडी दर40%
लाभ का रूपसोलर पैनल रूफटॉप इंस्टालेशन
द्वारा आवंटित बजटआर्थिक मामलों पर भारत की कैबिनेट समिति
बजट500 करोड़ रु.
स्थापना के लिए आवश्यक स्थान1 किलोवाट . के लिए 10 वर्ग मीटर
सौर पैनल जीवन20 साल तक
आवेदन का तरीकाऑनलाइन
योजना श्रेणीसरकारी योजना
हेल्पलाइन नंबर18002334477
कर मुक्त नंबर18001803333
आधिकारिक वेबसाइटsolarrooftop.gov.in

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना के उद्देश्य

सोलर रूफटॉप योजना शुरू करने का एक प्रमुख उद्देश्य भारत के नागरिकों के बीच सौर ऊर्जा के साथ-साथ नवीकरणीय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देना है ताकि बिजली की लागत 0 रुपये तक कम हो जाए और किसी के पास बिजली की मात्रा विपत्र न हो। यह योजना अधिक से अधिक भारत को बिजली के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने पर केंद्रित है।

Solar Rooftop Subsidy Yojana शुरू करने का दूसरा उद्देश्य लोगों को अपने घरों की छत पर सोलर पैनल लगाने पर 40% सब्सिडी का लाभ उठाकर सोलर पैनल खरीदने और फिर उन्हें अपनी छत पर स्थापित करने में सक्षम बनाना है। आवेदक कुछ पैसे बचाने में सक्षम होंगे और बिजली बिल की कुछ राशि को कम करने में भी सक्षम होंगे।

सौर ऊर्जा संयंत्र सब्सिडी योजना

नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने भारत के नागरिकों के बीच सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सौर ऊर्जा संयंत्र सब्सिडी योजना शुरू की है। सरकार द्वारा वर्ष 2022 के लिए 1 लाख मेगावाट सौर ऊर्जा प्राप्त करने का लक्ष्य रखा गया है। 

सौर ऊर्जा संयंत्र सब्सिडी योजना के लाभ

इस योजना का लाभ इस प्रकार है :-

  • इस नई योजना के प्रावधान के तहत, आवेदक रूफटॉप सोलर पावर प्लांट की स्थापना पर 30% सब्सिडी का लाभ उठा सकता है।
  • आवेदक हमारे भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों से 10 लाख रु. रुपये उधार ले सकते हैं। प्रत्येक इकाई के लिए केंद्र सरकार द्वारा भुगतान किया जाएगा सौर ऊर्जा संयंत्र के तहत उत्पन्न किया जाएगा।
  • इन लाभों के अलावा, लाभार्थी अपने सौर ऊर्जा संयंत्रों द्वारा उत्पादित बिजली की इकाइयों को सरकार द्वारा तय किए गए समकालिक टैरिफ के भीतर बेचकर भी किसी प्रकार का पैसा कमा सकते हैं।

सौर ऊर्जा संयंत्र की विशिष्टता

इस योजना की कुछ जानकारी इस प्रकार है:- 

शीर्षकविवरण
स्थापित करने के लिए आवश्यक स्थान100 वर्ग फुट
स्थापना की लागतरु. 60k से रु। 70k
सब्सिडी के साथ स्थापना की लागतरु. 42k से रु। 49k
बिजली उत्पन्न1,100 से 1500 किलोवाट/किलोवाट प्रति वर्ष
उपभोक्ता कमाईरु. 2k से 3k प्रति वर्ष

राज्यवार डिस्कॉम पोर्टल सूची

सोलर पैनल लगाने के लिए राज्यवार डिस्कॉम पोर्टल की सूची इस प्रकार है:-

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश का नामलिंक दिया गया
अंडमान और निकोबार द्वीप समूहयहाँ क्लिक करें
आंध्र प्रदेशयहाँ क्लिक करें
असमयहाँ क्लिक करें
बिहारयहाँ क्लिक करें
चंडीगढ़यहाँ क्लिक करें
छत्तीसगढयहाँ क्लिक करें
दादरा और नगर हवेली और दमन और दीवयहाँ क्लिक करें
गोवायहाँ क्लिक करें
गुजरातयहाँ क्लिक करें
हरयाणायहाँ क्लिक करें
हिमाचल प्रदेशयहाँ क्लिक करें
जम्मू और कश्मीरयहाँ क्लिक करें
झारखंडयहाँ क्लिक करें
कर्नाटकयहाँ क्लिक करें
केरलयहाँ क्लिक करें
मध्य प्रदेशयहाँ क्लिक करें
महाराष्ट्रयहाँ क्लिक करें
मणिपुरयहाँ क्लिक करें
मिजोरमयहाँ क्लिक करें
दिल्ली के एनसीटीयहाँ क्लिक करें
उड़ीसायहाँ क्लिक करें
पांडिचेरीयहाँ क्लिक करें
पंजाबयहाँ क्लिक करें
राजस्थान Rajasthanयहाँ क्लिक करें
सिक्किमयहाँ क्लिक करें
तमिलनाडुयहाँ क्लिक करें
तेलंगानायहाँ क्लिक करें
उत्तर प्रदेशयहाँ क्लिक करें
उत्तराखंडयहाँ क्लिक करें
पश्चिम बंगालयहाँ क्लिक करें

सोलर रूफटॉप योजना के लाभ

इस योजना के लाभ इस प्रकार हैं:-

  • इस योजना के तहत आवेदन करने से सभी लाभार्थी अपने घरों की छत पर सोलर पैनल लगवा सकेंगे।
  • सोलर पैनल लगाने पर 40 फीसदी सब्सिडी सरकार देगी।
  • सोलर रूफटॉप योजना बिजली बिल की कुछ राशि को कम करेगी।
  • नागरिकों को सौर ऊर्जा और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • Solar Rooftop Subsidy Scheme के तहत सरकार द्वारा सब्सिडी दर की राशि सीधे लाभार्थी के खाता संख्या में अंतरित की जाएगी ।
  • सोलर रूफ की स्थापना पर सब्सिडी का लाभ सभी कार्य क्षेत्रों को दिया जाएगा।
  • विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के आवेदक राज्य की उत्पत्ति के अनुसार उनकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर सीधे डिस्कॉम एजेंसी से सब्सिडी की राशि का दावा कर सकते हैं।
  • इस सोलर पैनल की लाइफ इंस्टालेशन के बाद 20 साल तक की होगी।
  • 25 साल की सर्विसिंग तक प्रतिस्थापन की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • यह पर्यावरण के साथ-साथ आवेदक के स्वास्थ्य के लिए भी सुरक्षित है ।
  • ग्रिड पावर की तुलना में लागत बहुत कम है।
  • यह काम को आसान बनाता है क्योंकि आवेदक को ग्रिड पावर पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं होती।
  • बिजली बिल के रूप में भुगतान करने से बहुत पैसा बचाता है।
  • आवेदक इन सौर पैनलों को घरों, कारखानों, समूह आवासों के साथ-साथ भवनों या समाज में कहीं भी कभी भी स्थापित कर सकते हैं।
  • इच्छुक आवेदक पंजीकरण करने के लिए इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना की विशेषताएं

इस योजना की विशेषताएं इस प्रकार हैं:-

  • भारत सरकार के तहत सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना शुरू की गई है
  • प्रधानमंत्री श्री. नरेंद्र मोदी जी ने इस पहल की शुरुआत की है।
  • इस योजना को सभी राज्यों और साथ ही भारत के सभी केंद्र शासित प्रदेशों में विस्तारित किया गया है।
  • इस योजना के लिए बजट भारत के मंत्रिमंडलीय समिति द्वारा आवंटित किया गया है।
  • यह एक तरह का एकमुश्त निवेश है जिसका भुगतान आवेदक को सोलर पैनल लगाने के समय करना होता है।
  • आवेदक को 3 किलोवाट के सोलर पैनल लगाने के लिए 40% अनुदान राशि आवंटित की जाएगी।
  • 3 KW से 500 KW सोलर पैनल लगाने पर 20% सब्सिडी दी जाएगी।
  • ये सोलर पैनल 25 से अधिक वर्षों तक बिजली की सुविधा प्रदान करेगी।
  • Solar Rooftop Yojana के सफल क्रियान्वयन के लिए सरकार द्वारा 500 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं ।
  • बिजली एजेंसी आपको सीधे आपके संबंधित बैंक खाते में सब्सिडी की राशि हस्तांतरित करेगी।
  • सौर पैनल द्वारा 30 से 50 परसेंट की दर से बिजली में होने वाले खर्चों को कम किया जाएगा |
  • सोलर पैनल लगाने के लिए करीब 10 वर्ग मीटर जगह की जरूरत होगी।
  • अपनी छत पर सोलर पैनल लगवाकर आवेदक 2k से 3k प्रति वर्ष (12 महीने) रुपये कमा सकेंगे।
  • आवेदकों को केवल 6.50 प्रति किलोवाट घंटा रुपये का भुगतान करना होगा।
  • इस सब्सिडी का लाभ घरेलू उपयोग, औद्योगिक उपयोग, सामाजिक क्षेत्र के उपयोग, अस्पतालों के उपयोग और शैक्षिक उपयोग के लिए भी बढ़ाया गया है।
  • सोलर रूफटॉप सिस्टम व्यावसायिक संगठन के लिए सबसे उपयुक्त है।

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना की आवेदन प्रक्रिया

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना की आवेदन प्रक्रिया निम्नलिखित प्रकार है:-

सर्वप्रथम आपको सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है अब आपके सामने हम पर खुल जाएगा |

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना की आवेदन प्रक्रिया

अब आपको Installation Interest Form के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |

अब आपके सामने आवेदन फॉर्म स्क्रीन पर आ जाएगा आपको पूरी जानकारी भरनी होगी |

अब आपको Submit विकल्प पर क्लिक करना है | आपका सफलतापूर्वक आवेदन हो चुका है |

State Wise DISCOM Portal Links देखने की प्रक्रिया

आपको स्टेट वाइज links देखने हैं तो उसकी प्रक्रिया निम्नलिखित है:-

सर्वप्रथम आपको सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है अब आपके सामने हम पर खुल जाएगा |

आपको DISCOM Information के सेक्शन में जाकर Portal Links Of Discoms के विकल्प पर क्लिक करना है |

क्लिक करते हैं आपकी स्क्रीन पर डिस्कॉम पोर्टल लिंक का पेज ओपन हो जाएगा तथा आप links की इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकेंगे | 

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

स्पिन लॉग इन करने की प्रक्रिया

इस योजना के तहत आवेदकों को स्पिन लॉगिन के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा: –

  • सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आप इस साइट के होमपेज पर पहुंच जाएंगे।
  • स्क्रीन के ऊपर दाईं ओर देखें। Log In का एक विकल्प होगा इस विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आपको आवश्यक कॉलम में कुछ पूछे गए विवरण दर्ज करने होंगे: –
    • उपयोगकर्ता नाम
    • कुंजिका
    • मानव जांच (कैप्चा कोड)
  • फिर सभी प्रविष्टियां करने के बाद आपको लॉग इन बटन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आपको उनके पोर्टल के तहत SPIN लॉगइन मिल जाएगा।

सोलर रूफटॉप की लागत की गणना

इस योजना के तहत सोलर रूफटॉप की लागत की गणना के लिए आवेदकों को नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा |

  • सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट खोलनी होगी।
  • अब आप इस साइट के होमपेज पर आ जाएंगे।
  • होमपेज पर आपको सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर के लिंक पर क्लिक करना है ।
सोलर रूफटॉप की लागत की गणना
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज दिखाई देगा जहां आप अपनी आवश्यकता के अनुसार चयन करने के लिए: –
    • कुल रूफ टॉप एरिया
    • सौर पैनल क्षमता जिसे आप स्थापित करना चाहते हैं
    • आपका बजट
  • फिर यह चयन करने के बाद, आवेदक को राज्य और फिर उपभोक्ता श्रेणी का चयन करना होगा।
  • बाद में आपको एंटर पर क्लिक करना होगा कि आपकी औसत बिजली की लागत क्या है।
  • अब आपको कैलकुलेट के ऑप्शन पर क्लिक करना है।  
  • स्थापना के लिए सोलर रूफटॉप की कीमत आपकी स्क्रीन पर दिखाई जाएगी।

सोलर रूफटॉप योजना ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

इस योजना के तहत आवेदकों को सोलर रूफटॉप ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा

  • सबसे पहले यूजर को प्ले स्टोर एप में जाना होगा।
  • फिर आपको सर्च बार पर उमंग ऐप का नाम टाइप करना होगा।
  • उसके बाद आप खोजे गए नाम के ऐप्स की सूची के साथ प्रदर्शित होंगे।
  • स्क्रीन के ऊपर बाईं ओर दिखाए गए इंस्टॉल बटन पर क्लिक करें।
  • अब यह आपके फोन में इंस्टॉल हो जाएगा।
  • आवेदक उमंग ऐप पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं और सोलर रूफटॉप के अपडेट तक पहुंच सकते हैं।
  • आपको बस उमंग ऐप पर जाना है और फिर सर्च बार पर सोलर रूफटॉप सर्च करना है।
  • उसके बाद आप इसे अपने मोबाइल फोन पर एक्सेस कर सकते हैं।

इस योजना के तहत डिस्कॉम से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों को देखने के लिए आवेदकों को नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा: –

  • सबसे पहले उपयोगकर्ता को इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट खोलने की आवश्यकता होगी।
  • अब आप इस साइट के होमपेज पर आ जाएंगे।
  • होमपेज पर आपको 3 डैश बटन मेन्यू पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद इस मेनू के तहत विभिन्न विकल्प प्रदर्शित होंगे।
  • एफएक्यू (नया) के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद डिस्कॉम के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न पर क्लिक करें।
  • आपकी स्क्रीन पर एक फ़ाइल प्रारूप प्रदर्शित हो रहा होगा।
  • आप इसे डाउनलोड कर पढ़ सकते हैं।

संपर्क जानकारी

यदि आपके मन में Solar Rooftop Yojana के संबंध में कोई प्रश्न और शंका आ रही है, तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर और टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं: -: –

संपर्क करें
  • हेल्पलाइन नंबर:- 18002334477
  • टोल फ्री नंबर:- 18001803333

Leave a Comment